June 10, 2024 3:18 am

फॉलो करें

12वीं के बाद ऐसे करें बेस्ट कॉलेज और कोर्स का चुनाव

12वीं के रिजल्ट आने वाले हैं। रिजल्ट के बाद अगला मिशन होता है किसी अच्छे कॉलेज में एडमिशन। पूरा करियर कॉलेज के चुनाव पर ही आधारित रहता है, इसलिए कॉलेज का चयन करते समय पूरी सावधानी रखनी चाहिए। यह एक ऐसा समय होता है जो छात्रों के पूरे जीवन पर असर डालता है। कॉलेज और कोर्स का चुनाव करते समय कई बातों को ध्यान रखना पड़ता है, ताकि भविष्य उज्जवल रहे। किसी भी कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आप भविष्य में क्या काम करना चाहते हैं।

जिस भी फील्ड में आप अपना करियर बनाना चाहते हैं। एक बार उससे संबंधित कोर्स का चुनाव करने के बाद ही कॉलेज में एडमिशन की प्रक्रिया का शुरू करें। अच्छे कॉलेज का चयन ही बढ़िया करियर की नींव रखता है। यह चुनाव करना आसान नहीं है और कक्षा 12वीं के बाद बेस्ट कॉलेजों को चुनने वाले छात्रों के लिए यह सबसे कठिन काम होता है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण असफलता का डर, साथियों और माता-पिता का दबाव है। थोड़ी सी मेहनत, कुछ प्लानिंग और कुछ सेल्फ रिफ्लेशन के साथ, आप अपने करियर लक्ष्य तक पहुंच सकते हैं। जानिए वे बातें जो कॉलेज चुनते समय ध्यान में रखेंगे तो भविष्य में प्रॉब्लम नहीं होंगी।

सही कोर्स का करें चुनाव: एडमिशन लेने से पहले आप वहां पढ़ने वाले पूर्व छात्रों से बातचीत करके तमाम जानकारी ले सकते हैं । सिलेबस स्कोप क्या है? कोर्स की मार्किट डिमांड कैसी है। कोर्स इंडस्ट्री सेंट्रिक है या नहीं। कोर्स का चुनाव करते हुए उसका भविष्य, बाजार की मांग और फाइनेंस सिक्योरिटी को ध्यान में रखें।

कोर्स का स्कोप: कोर्स का चयन के बाद यह जानना जरूरी है कि फील्ड में जॉब या करियर ऑप्शन क्या है। उस फील्ड में नौकरियां मिल रही है या नहीं अथवा आने वाले समय में उसका क्या स्कॉप रह सकता है। आज के समय में करियर के असंख्य विकल्प उपलब्ध हैं। कई तरह की नई नौकरियां आ रही है।

कोर्स रेपुटेसन: कॉलेज का चुनाव करते समय यह भी ध्यान रखें कि आप वहां से जो कोर्स करना चाहते हैं, उसकी रेपुटेशन कैसी है। करियर में वह कोर्स काम आएगा या नहीं। कई बार ऐसा भी होता है कि अच्छे कॉलेज से किए गए कोर्स का भी कोई महत्व नहीं होता।

फेकल्टी इमेज: कॉलेज का चुनाव करते समय इस बात का भी विशेष ध्यान रखें कि वहां की फेकल्टी की इमेज कैसी है। इसके लिए एलुमनाई और पढ़ाई कर रहे स्टूडेंट्स से बात करें।

प्लेसमेंट रिकॉर्ड: प्रोफेशनल कोर्स में एडमिशन लेने की प्लानिंग कर रहे हैं तो यह भी पता करना जरूति है कि कॉलेज का प्लेससमेंट रिकार्ड कैसा है। इसके लिए यूनिवर्सिटी / कॉलेज के प्लेसमेंट सेल से संपर्क कर सकते है।

करियर काउंसलर की मदद: जिन छात्रों और अभिभावकों को सही करियर का चुनाव करने में परेशानी हो, उन्हें हमेशा एक प्रोफेशनल करियर काउंसलर की मदद लेनी चाहिए। वे छात्रों के हितों, योग्यता और कौशल का आकलन करने में विशेषज्ञ होते हैं। वे आपकी क्षमता के अनुसार आपको सही कोर्स, कॉलेज और करियर चुनने में पूरी मदद करेंगे। बहुत सारे कॉलेज अपने यहाँ प्रोफेशनल काउंसलर की नियुक्ति करते है और एडमीशन की इंक्वायरी करने वाले स्टूडेंट्स को फ्री ऑनलाइन/ ऑफ लाइन काउंसलिंग की सुविधा प्रदान करते है।

Share this post:

Leave a Comment

खबरें और भी हैं...

लाइव क्रिकट स्कोर

कोरोना अपडेट

Weather Data Source: Wetter Indien 7 tage

राशिफल